Credit Card Scams

क्रेडिट कार्ड फ्रॉड के खिलाफ कैसे शिकायत दर्ज करें 

यदि आप क्रेडिट कार्ड यूज करते हैं तो हो जाएं सावधान क्योंकि क्रेडिट कार्ड के जरिये हो रहे लाखों की ठगी।क्रेडिट कार्ड उपयोग करने वाले कस्टमर के पास किसी फ्रॉड लड़की कस्टमर केयर बनकर फ़ोन कॉल करता है। और SBI customer care से बोल रहे है बोलते हुए आपको पूछते है आपका क्रेडिट कार्ड सही चल रहा है, कोई प्रॉब्लम तो नहीं, इस तरह बात करता है की आपको लगेगा की सही में कस्टमर केयर से कॉल आया है।

ऐसे कस्टमर को टारगेट बनाते है जो Recently  Card Issue कराया है, इन कस्टमर के पास फ़ोन कर  बोलते है आपका कार्ड Activate नहीं हुआ है आपके कार्ड से कोई ट्रांजेक्शन नहीं हो सकता। क्या आप अपना कार्ड Activate करना चाहते हो। इस तरह बात करके आपके कार्ड का 16 digit card number ,Card ka valid Date , CVV number पूछने के बाद कुछ message आयेगा उसमे 6 digit OTP नंबर होगा उसे बताने के लिए बोलता है ,जैसे ही आप OTP नंबर बताते है आप फ्रॉड का शिकार हो जाते है।
Credit Card Scams

क्या फ्रॉड करना इतना आसान है ? फ्रॉड करने वाले ग्रुप को नई कस्टमर की जानकारी कहा से मिलती होगी क्या लगता है आपको ? जरूर कोई न कोई लूप होल है जहा से इन फ़्रॉडी को नये कस्टमर का फ़ोन नंबर और सारा जानकारी हो जाती है।

नये कस्टमर ही ज़्यदातर धोखे का शिकार क्यों होता है?क्योकि नये कस्टमर जहा से कार्ड बनवाते है उसके दुवारा बोला जाता है को कार्ड वेरीफिकेशन मैसेज या कॉल आयेगा। इससे कस्टमर के ध्यान में यह बात रहती है। जब फ्रॉड कस्टमर केयर का फ़ोन आता है तो हमें यही लगता है की सही में वेरिफिकेशन कॉल होगा करके अपना सारा जानकारी दे देते है। फ्रॉड का शिकार हो जाते है।

क्या आपको पता है आप जहां से क्रेडिट कार्ड बनाते हैं वह बैंक कर्मचारी होता है या नहीं आपको यही लगता है कि वह बैंक का कर्मचारी है, तो आप यह जान ले क्रेडिट कार्ड एक प्राइवेट सेक्टर की कंपनी है जो बैंक से लिंक  है और बैंक के किसी एक चेंबर में बैठकर काम करते हैं। कभी-कभी आपको क्रेडिट कार्ड बनाने वाले शॉपिंग मॉल, बिग बाजार, अन्य ऐसे सार्वजनिक स्थान जहां पर लोग खरीदारी करने जाते हैं। उस जगह पर क्रेडिट कार्ड बनाने वाले व्यक्तियो से संपर्क कर क्रेडिट कार्ड के फायदे के बारे में बता कर आपको क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए बोलता है। और आप क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए अपना आधार कार्ड ,अकाउंट नंबर, मोबाइल नंबर संबंधी अन्य जानकारी उस व्यक्ति को दे देते हैं। जो अप्रूवल होने के बाद आपका कार्ड बनकर आपके तक आ जाता है इन सभी बीचो बीच में आपकी सारी डिटेल फ़ोन नंबर फ्रॉड ग्रुप के पास चला जाता है।  


Type of the credit card fraud 


  • कैशबैक ऑफर के नाम से फ्रॉड कॉलर फोन कर यह बोलते हैं की आपका क्रेडिट कार्ड हमारे उन चुनिंदा सदस्यों में चुना गया है जिसको क्रेडिट कार्ड कंपनी द्वारा 10 प्रतिशत एक्स्ट्रा हर खरीदारी में कैशबैक ऑफर का लाभ दिया जा रहा है। इसमें आपका नाम भी शामिल है क्या आप इस ऑफर को लेना चाहते हैं इस तरह बात कर कुछ स्टेप कराकर आपकी कार्ड की साडी जानकारी हासिल करता है। और फ्रॉड का  शिकार बना लेते है।
  • कार्ड एक्टिवेट करने के नाम पर आपका कार्ड एक्टिवेट नहीं हुआ है कार्ड एक्टिवेट होने के बाद ही आप इस कार्ड का लाभ उठा सकते हैं क्या आप अपना पाठ एक्टिवेट कराना चाहते हैं।
  • क्रेडिट कार्ड बिल जनरेट के नाम पर यदि आपने कार्ड से कोई भी बिल पेमेंट किये है तो यह प्रति महीने 23 तारीख को आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर ,ईमेल आईडी में भेज दिया जाता है। फस्ट टाइम कस्टमर से या गलती होता है कि वह जानकारी नहीं होने के कारण बिल कब  आएगा यह ध्यान में लगा रहता है इसी का फायदा उठाकर धोखाधड़ी करने वाले व्यक्ति आपको धोखे का शिकार बना लेते हैं। 

बचने के उपाय 

  • कोई भी ऐसे कस्टमर केयर जो आपसे आपके बैंक संबंधी जानकारी मांगता है तो जानकारी शेयर नहीं करना चाहिए। 
  • कोई भी ऐसे ऑफर के बारे में बताएं तो आप एक बार जरूर सोचे की  में कही फ्रॉड का शिकार तो नहीं हो जाऊंगा। यही सोच आपको बचा सकता है। 
  • यदि आपको बिल भुगतान के बारे में नहीं पता तो आप क्रेडिट कार्ड के ऑफिस में जाकर बिल जमा कर सकते हैं। 
  • आप क्रेडिट कार्ड से कोई भी बिल भुगतान कर रहे हैं तो क्रेडिट कार्ड के नंबर को छुपाकर उसके पासवर्ड छुपा कर दर्ज करें। कई बार ऐसा होता है कि आपका कार्ड का डिटेल और पासवर्ड सीसीटीवी कैमरा में दर्ज हो जाता है इससे भी आप फ्रॉड का शिकार हो सकते हैं। 


यदि आप फ्रॉड का शिकार हो गए हो तो यह तरीका अपनाये 

  1. सर्वप्रथम अपने नजदीकी क्रेडिट कार्ड ऑफिस जाए और आपके साथ हुए धोखाधड़ी का स्टेटमेंट में ले।और कार्ड होल्ड कराये।  
  2. साइबर सेल ऑफिस जाए पर अपने साथ हुई धोखाधड़ी का विवरण बताते हुए रिफंड का प्रोसेस कराये।
  3. पुलिस स्टेशन जाए शिकायत दर्ज करवाएं। 
  4. आपके साथ हुए दो धोखेधड़ी का शिकायत आप कंजूमर कोर्ट में भी दर्ज करा सकते हैं। आपके साथ हुए धोखाधड़ी के संबंध में पूरी डॉक्यूमेंट साथ ले जाएं। इससे बहुत लोगों की पैसा क्रेडिट कार्ड वाले ने रिफंड किया हुआ है ,आप भी एक कदम उठा सकते है। 

0/Post a Comment/Comments

FOR MORE INFORMATION PLEASE COMMENT

Previous Post Next Post